अनुसंधान

ई.आर.नेट ने सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडंवांस कंप्यूटिंग (C-DAC) के साथ मिलकर गरुड़ प्रोजेक्ट के प्रूफ ऑफ कंसेप्ट फेज़ का कार्य पूरा किया है जिसके अंतर्गत देश के 17 शहरों में 45 शैक्षणिक एवं अनुसंधान संस्थानों में 2.4 जीबीपीएस की उच्च-गति वाले कम्यूनिकेशन बैकबोन पर कनेक्टिविटी दी गई है ताकि इन संस्थानों को प्रौद्योगिकी, आर्किटेक्चर, मानकों और ग्रिड कंप्यूटिंग एप्लीकेशन में अनुसंधान एवं इंजीनियरी कार्य करने की सुविधा दी जा सके। आईसीएआरनेट- जो ई.आर.नेट नेटवर्क का एक ओवरले है- इंडियन काउंसिल ऑफ एग्रीकल्चर रिसर्च (ICAR) का एक कार्यक्रम है जिसेस वह देश में स्थित अपने समस्त संस्थानों को आपस में जोड़ सकता है और इंटरनेट, ई-मेल और डिजिटल लाइब्रेरियों के लिए एक्सेस उपलब्ध कराता है।  274 कृषि शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान विभिन्न बैंडविड्थ (128 केबीपीएस से 2 एमबीपीएस) पर कनेक्ट के गए हैं।  ई.आर.नेट ने ई.आर.नेट नेटवर्क पर 23 इंडियन काउंसिल ऑफ एग्रीकल्चर रिसर्च (ICAR) संस्थानों में आईपी आधारित कॉन्फ्रेंसिंग एवं टेलीफोनी सिस्टम स्थापित और कमीशन किए हैं। ई.आर.नेट इंडिया ने शिक्षा संबंधी सामग्री जिसमें रिसर्च पेपर्स, थीसिस और अनुसंधान एवं शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थियों तथा अध्यापकों का डेटाबेस शामिल है, को हॉस्ट करने के लिए एक सिक्योर डेटा सेंटर भी स्थापित किया है।

 

Hindi